स्कूलों कब खुलेगी छुट्टी कैलेंडर लगभग 10% Limited छुट्टी.

स्कूलों कब खुलेगी क्लास रूम

स्कूलों कब खुलेगी यह सबसे ज्यादा पूछे जाने बाल प्रश्न है। और लगभग हर व्यक्ति उसके बच्चे के चूल के बारे में जानना चाहता है। जब से लॉक डाउन लगा है। उसके बाद से यह सवाल काफी बार पूछा गया है। जब से लॉक डाउन लगा है। तब से बच्चों की चांदी आ गई है। कभी-कभी तो यह लगता है। बच्चे आखिर पढ़ाई कैसे करेंगे बच्चों के माता-पिता यह सोच सोच कर परेशान हैं। कि आखिरकार यह छुट्टियां कैसे खत्म होंगी। अभी कुछ दिन पहले लॉक डाउन ख़त्म हुआ है। और अब उसके बाद त्योहारों की छुट्टी होने लगी हैं। जानेंगे इस लेख में क्यों बच्चों की छुट्टियां कब खत्म होंगी। और स्कूलों कब खुलेगी।

छुट्टी का कैलेंडर।

अभी पिछले 2 वर्ष तक लॉकडाउन लगा रहा जिस कारण बच्चों की पढ़ाई ना हो सकी। और अगर हुई तो वह भी ऑनलाइन हुई जिस कारण बच्चों में पढ़ाई को लेकर रुझान बहुत कम होने लगा है। स्कूलों कब खुलेगी ऑनलाइन पढ़ाई के कारण बच्चों के हाथ में मोबाइल या टेबलेट जैसी इलेक्ट्रॉनिक यंत्र आ गए। और बच्चे ऑनलाइन पढ़ाई करने की जगह उससे गेम या वीडियोस देखने लगे। जिससे बच्चों का पढ़ाई का स्तर बहुत गिर गया है। अभी कुछ ही दिन हुए थे स्कूल खुले हुए और अब यह सरकारी छुट्टियां जो कि कैलेंडर में होती हैं। आ गई। और बच्चों की फिर वही दशा होने जा रही है।

यदि कैलेंडर की छुट्टियों की बात की जाए तो उसमें हर महीने चार तो रविवार होते हैं। और हर महीने लगभग दो छुट्टियां एक्स्ट्रा हो जाती हैं। जिस वजह से बच्चे महीने में सिर्फ 20 दिन ही स्कूल जा पाते हैं। कुल मिलाकर 1 वर्ष में लगभग 4 महीने छुट्टी होती है जिसमें 1 महीने तो गर्मियों की छुट्टी और बाकी ठंड की छुट्टी निकल जाती है। स्कूलों कब खुलेगी अब जब तक यह छुट्टियाँ ख़त्म नहीं होती तब तक शिक्षण संस्थान नहीं खुलेंगे।

स्कूलों कब खुलेगी अध्यन

स्कूलों कब खुलेगी।

स्कूलों कब खुलेगी यह सवाल बहुत पूछा जाता है। कभी-कभी डीएम के आदेश से भी स्कूल बंद हो जाते हैं। और ज्यादातर कंडोलेंसेस के वजह से भी स्कूल बंद हो जाते हैं। स्कूल खुलने का समय 8:00 बजे से लेकर 2:00 या 4:00 बजे तक होता है। जो कि मौसम पर निर्भर करता है। मौसम खराब होने की वजह से भी स्कूल बंद हो जाते हैं हमारे देश में स्कूलों की स्थिति वैसे भी ठीक नहीं है। ज्यादातर स्कूल कच्चे बने हुए हैं। जिनमें बारिश का पानी भर जाता है।

और कभी कभी बाढ़ आने की वजह से यह पानी स्कूलों के कमरे तक पहुंच जाता है। खास तौर पर उत्तर प्रदेश के सरकारी स्कूलों की कंडीशन ज्यादा अच्छी नहीं है। बल्कि दिल्ली में मौजूद सरकारी स्कूल काफी हद तक अच्छे हो गए हैं। जिसमें ऑनलाइन क्लासों के साथ साथ ऑफलाइन क्लास भी ली जा रही है। स्कूलों कब खुलेगी आशा है जल्द ही स्कूल खुल जायेंगे।

स्कूलों कब खुलेगी कुर्सी

छुट्टी में क्या करें।

यदि किन्ही कारणों वश स्कूल की छुट्टियां हो जाती हैं। तो बच्चों को चाहिए कि वे अपना होमवर्क अच्छे से करें। और ज्यादा से ज्यादा समय पढ़ाई पर दें। और बचा हुआ समय खेलकूद कर सकते हैं माता-पिता भी अपने बच्चों को अच्छी शिक्षा दे सकते हैं। अगर हो सके तो माता-पिता बच्चे के साथ उसका होमवर्क कराने में मदद करें। और अलग-अलग विषयों की पढ़ाई कराएं। जिससे बच्चे का रिवीजन हो सके और उसे बेहतर ज्ञान की प्राप्ति हो सके। जब तक स्कूल नहीं सुनते तब तक बच्चे घर पर रहकर भी अच्छी शिक्षा हासिल कर सकते हैं। यदि इसमें कोई कठिनाई आती है। तो माता-पिता बच्चे के शिक्षक की मदद ले सकते हैं। स्कूलों कब खुलेगी का इंतज़ार न करें।

स्कूलों कब खुलेगी लाइब्रेरी

निष्कर्ष

आशा करता हूं। की आपको स्कूलों कब खुलेगी के बारे में बहुत कुछ जानने को मिला होगा। पाठकों से निवेदन की यदि आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसको शेयर अपने दोस्तों में शेयर करें। हमारे सोशल मीडिया अकाउंट्स को फॉलो करें अत्यधिक जानकारी के लिए आप हमें मेल भी कर सकते है। यदि आपका कोई प्रश्न है तो हमसे संपर्क करें संपर्क करने की जानकारी contact us पेज पर उपलब्ध है।

यह भी जानें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *