Ranitidine Tablet Uses in Hindi: जानकारी, उपयोग, लाभ, फायदे, एसिडिटी की दवा

Ranitidine Tablet Uses in Hindi

Ranitidine Tablet Uses in Hindi, में आज जानेंगे इसके क्या क्या इस्तेमाल हैं। इस दवा की कीमत कितनी है। Ranitidine के साइड इफेक्ट्स क्या क्या हैं। दोस्तों अपने कुछ brand नेम जरूर सुने होंगे जिसमे Rantac, Zinetac, और Aciloc शामिल हैं। इन सभी ब्रांडो में Ranitidine मेन दवा होती है। जो की 150 मिलीग्राम या 300 मिलीग्राम में होती है। Ranitidine का पूरा विवरण निम्नलिखित है।

Ranitidine Tablet Uses in Hindi (विवरण)

रैनिटिडिन बहुत ज्यादा इस्तेमाल की जाने बाली दवा है। रैनिटिडिन Histamine H2 Receptor Antagonist है। जो की  cimetidine और famotidine की तरह ही है। और एक जैसी केटेगरी से आती हैं। रैनिटिडिन का मॉलिक्यूलर वेट 314.4 होता है। जिसका केमिकल फार्मूला C13H22N4O3S होता है। रैनिटिडिन की हाफ लाइफ लगभग 2.5 घंटे से लेकर 3 घंटा होती है।

डेक्सोना का क्या उपयोग है

रैनिटिडिन का इस्तेमाल गैस्ट्रिक अलसर में किया जाता है। जो की हमारे पेट में गैस्ट्रिक एसिड के रिसाव को रोकता है। जिससे एसिडिटी या गैस में आराम मिलता है। चूँकि रैनिटिडिन एसिड के रिसाव को रोकता है इस कारण यह गैस्ट्रिक अलसर को तेजी से सही या हील करता है। Ranitidine Tablet Uses in Hindi में इसके और इस्तेमाल जानेंगे। 

रैनिटिडिन कैसे काम करती है

रैनिटिडिन Histamine H2 Receptor Antagonist है। खाना खाने के बाद हमारे पेट की सेल्स से गैस्ट्रीन नामक हार्मोन निकलता है। जो हिस्टामिन के स्त्राव को बढ़ता है। और हिस्टामिन H2 रिसेप्टर से बंधता है। जो गैस्ट्रिक एसिड रिसाव का कारण बनता है। रैनिटिडिन गैस्ट्रिक एसिड के रिसाव को कम कर देती है। और हिस्टामिन बंधन को रोकती है। जिससे चार सर छः घंटे का रिलीफ मिलता है। और लग दवाएं गैस्ट्रिक एसिड के रिसाव को बढाती हैं। इसलिए रैनिटिडिन को हर दवा के साथ दिया जाता है। जिससे एसिडिटी और गैस जैसी समस्याएँ ख़त्म हो जाती हैं। Ranitidine Tablet Uses in Hindi में इसके और इस्तेमाल जानेंगे।

Zerodol SP इस्तेमाल क्या क्या हैं

Ranitidine Tablet Uses in Hindi (इस्तेमाल)

रेनिटिडिन का इस्तेमाल पेट में बढे एसिड के कारण गैस एसिडिटी और गैस्ट्रिक अल्सर में किया जाता है। रेनिटिडिन गैस्ट्रिक एसिड को कम करते है। तथा पेट में हो रही जलन को खत्म करती है। यदि पेट में अपच हो जाए तो गैस और एसिडिटी जैसे लक्षण दिखाई देते हैं जिन से बचने के लिए रेनिटिडिन का इस्तेमाल किया जाता है। गैस्ट्रिक अल्सर में पेट की ऊपरी सब म्यूकोसा की परत रैपचर  हो जाती है। जिस कारण अत्यधिक चलन और दर्द होता है जिसका उपचार करने के लिए रेनिटिडिन का इस्तेमाल किया जाता है।

I Pill कैसे इस्तेमाल की जाती है। 

S.NO. Ranitidine Tablet Uses in Hindi
1 रैनिटिडिन का इस्तेमाल एंटासिड के रूप में किया जाता है। 
2 एक्टिव डुओडेनल अलसर में भी रैनिटिडिन  का इस्तेमाल किया जाता है। 
3 अत्यधिक गैस्ट्रिक एसिड के कारण हुए ज़ोलिंगर-एलिसन सिंड्रोम में रैनिटिडिन का इस्तेमाल करते हैं। 
4 जीईआरडी में भी रैनिटिडिन का इस्तेमाल किया जाता है। 
5 मास्टोसाइटोसिस में भी रैनिटिडिन का इस्तेमाल किया जाता है। 

दुष्प्रभाव (Ranitidine Tablet के साइड इफेक्ट्स)

जिस तरह से रेनिटिडिन के इस्तेमाल हैं। उसी तरह से उसके दुष्प्रभाव भी हैं। इसके इस्तेमाल करने से सिर दर्द  तथा चक्कर आना आम बात है इसका ज्यादा इस्तेमाल मितली तथा उल्टी का कारण बनता है। कभी-कभी इसके इस्तेमाल से दस्त भी होने लगते हैं। रेनिटिडिन मानसिक भ्रम पैदा करता है जिससे मेंटल कन्फ्यूजन जैसी बीमारी पैदा होती है। जो भी धीरे-धीरे ठीक हो जाती है। इसके इस्तेमाल से सांस लेने में भी प्रॉब्लम होती है तथा रैशेज और बेहोशी जैसी समस्या भी आ जाती है। इसका इस्तेमाल खुद से कभी नहीं करना चाहिए इसके इस्तेमाल से पहले चिकित्सक की सलाह लेना जरूरी है।

Ranitidine Tablet Uses in Hindi2

न्यूरोबियान फोर्ट कैसे काम करती है?

खुराक (Dose)

रेनिटिडिन की के 150 मिलीग्राम तथा 300 मिलीग्राम की गोलियां आती हैं। जिसकी एक गोली सुबह दोपहर शाम या 6 घंटे के अंतराल में ले सकते हैं। रेनिटिडिन के इंजेक्शन भी आते हैं। जो शरीर में पूरी तरह अवशोषित हो जाते हैं। तथा उनका एक्शन भी लंबा होता है। रेनिटिडिन के इंजेक्शन ज्यादातर ऑपरेशन के बाद मरीज को लगाए जाते हैं। यह दवा काफी सस्ती है। जिसको आप सस्ता एंटासिड भी कह सकते हैं।

रेनिटिडिन अलग प्रोडक्ट्स

रेनिटिडिन को कई अलग अलग कंपनियों द्वारा बनाई जाती है। जिनको अलग अलग नाम से मार्किट में उतारा गया है। जो निम्नलिखित तालिका में उपलब्ध है।

Sinarest टेबलेट के क्या उयोग हैं।

S. NO.  BARND NAME  COMPANY
1 RANTAC 150, RANTAC 300, RANTAC INJECTION Glaxo SmithKline Pharmaceuticals Ltd (GSK)
2 ACILOC 150, ACILOC 300, ACILOC INJECTION J B Chemicals and Pharmaceuticals Ltd
3 ZINETAC 150, ZINETAC 300, ZINETAC INJECTION Cadila Pharmaceuticals Ltd

Ranitidine Tablet Uses in Hindi3

पूछे जाने बाले प्रश्न

प्रश्न-रेनिटिडिन टैबलेट कब लेनी चाहिए?

उत्तर-यदि आपको गैस बनती है या मितली उल्टी जैसी फीलिंग आती हैं। या फिर गैस्ट्रिक अल्सर के लिए रेनिटिडिन टेबलेट का इस्तेमाल किया जाता है। यह दो तरह की डोज के साथ आती है जिसमें 150 मिलीग्राम तथा 300 मिलीग्राम की गोली है रेनिटिडिन के इंजेक्शन भी आते हैं। ज्यादा जानकारी के Ranitidine Tablet Uses in Hindi हेडिंग पढ़ें।

प्रश्न-रैनिटिडिन कैसे काम करता है?

उत्तर- रैनिटिडिन Histamine H2 Receptor Antagonist है। जो गैस्ट्रिक एसिड के रिसाव को कम करती है। जिससे गैस्ट्रिक अल्सर तथा पेट से संबंधित रोगों में आराम मिलता है इसको डॉक्टर की सलाह से ही लेना चाहिए।

दाद को जड़ से ख़त्म करें। 

प्रश्न-ranitidine क्यों बंद कर दिया गया था?

उत्तर- यदि रेनिटिडिन के रखरखाव में गड़बड़ हो जाए तो यह काफी सारे हार्मफुल केमिकल्स को जन्म देती है। जो कि आगे चलकर कैंसर का कारण बनते हैं। इस कारण रेनिटिडिन को बंद कर दिया गया था। और बाद में इसको डॉक्टर के पर्चे के बाद ही दिया जाने लगा। ज्यादा जानकारी के Ranitidine Tablet Uses in Hindi हेडिंग पढ़ें।

प्रश्न-रेनटेक 150 किसकी दवा है?

उत्तर- रेनटेक 150 एक एंटासिड है जिसका इस्तेमाल पेट से संबंधित रोगों में किया जाता है। यदि आपके पेट में गैस्ट्रिक एसिड का रिसाव ज्यादा होता है तो आप रेनटेक 150 का इस्तेमाल कर सकते हैं। बिना डॉक्टर की सलाह के रेनटेक डेढ़ सौ का इस्तेमाल ना करें।

सिर दर्द और आँखों में दर्द क्यों होता है आसान भाषा जाने।

प्रश्न-रेनिटिडिन टेबलेट किसकी है?

उत्तर- रेनिटिडिन की टेबलेट पेट में गैस्ट्रिक एसिड के रिसाव को रोकती है। जिससे यह गैस्ट्रिक अल्सर पेट से संबंधित रोगों में बहुत आराम पहुंचाती है। रेनिटिडिन की टेबलेट बाजार में आसानी से उपलब्ध है। जिसकी कीमत बहुत सस्ती है। इसको आम भाषा में एक सस्ता एंटासिड भी कह सकते हैं। ज्यादा जानकारी के Ranitidine Tablet Uses in Hindi हेडिंग पढ़ें।

प्रश्न-क्या ranitidine को हर दिन लेना सुरक्षित है?

उत्तर- रेनिटिडिन को खुद से कभी नहीं लेना चाहिए डॉक्टर की सलाह के बाद ही रेनटेक लेना चाहिए। यदि आप रेगुलर रेनिटिडिन का सेवन कर रहे हैं तो यह घातक हो सकता है। बेहतर यही है कि डॉक्टर की सलाह ली जाए।

ओफ्लोक्सासिन टेबलेट के उपयोग और साइड इफेक्ट्स।

प्रश्न-भोजन से पहले ranitidine लिया जाना चाहिए?

उत्तर- भोजन से पहले आप रेनिटिडिन ले सकते हैं क्योंकि रेनिटिडिन गैस्ट्रिक एसिड के रिसाव को रोकती है। इसलिए इसका शरीर पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता आप रेनिटिडिन को खाना खाने से पहले या बाद में ले सकते हैं। ज्यादा जानकारी के Ranitidine Tablet Uses in Hindi हेडिंग पढ़ें।

Ranitidine Tablet Uses in Hindi 5

प्रश्न-खाने के कितने समय बाद तक मैं ranitidine ले सकता हूँ?

उत्तर- खाना खाने के लगभग आधा घंटे बाद आप Ranitidine ले सकते हैं। क्योंकि Ranitidine एक एंटासिड है इसलिए यह खाना खाने के बाद गैस्ट्रिक एसिड के रिसाव को रोकती है। जिससे गैस तथा अपच जैसी समस्याएं खत्म हो जाती हैं।

Nimesulide Tablet उपयोग और साइड इफेक्ट्स।

प्रश्न-ज़ैंटैक कितने समय तक रहता है?

उत्तर- ज़ैंटैक का असर हमारे शरीर में 3 से 4 घंटे तक ही रहता है उसके बाद इसका निष्कासन मूत्र मार्ग द्वारा या पसीने द्वारा हो जाता है। लंबे समय तक एक्शन के लिए ज़ैंटैक इंजेक्शन का उपयोग किया जाता है। ज्यादा जानकारी के Ranitidine Tablet Uses in Hindi हेडिंग पढ़ें।

प्रश्न-आप ज़ैंटैक को कितने समय तक ले सकते हैं?

उत्तर- जैसा कि हम जानते हैं ज़ैंटैक एंटासिड है जिसका इस्तेमाल अम्ल प्रतिरोधी होता है। इसलिए जब आपको लगे गैस एसिडिटी की समस्या हो रही है। तब आप ज़ैंटैक का सेवन कर सकते हैं। इसके सेवन से पहले डॉक्टर की सलाह अवश्य लें।

Cefixime के क्या क्या उपयोग हैं

निष्कर्ष

दोस्तों। इस लेख Ranitidine Tablet Uses in Hindi में हमने इसके इस्तेमाल जाने। इसके साथ साथ इसके दुष्प्रभाव और डोज को भी जाना। आशा करता हूँ। यह लेख आपको अच्छा लगा होगा। इस लेख से सम्बंधित आपका कोई प्रश्न या सुझाव हो। तो निःसंकोच हमसे संपर्क करें। ज्यादा जानकारी के लिए हमारे सोशल मीडिया एकाउंट्स को लाइक और फॉलो करें। धन्यबाद।

यह भी जानें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *