Ofloxacin Tablet Uses In Hindi,उपयोग,साइड इफेक्ट्स,लाभ,जानकारी और खुराक

Ofloxacin Tablet Uses In Hindi

ofloxacin tablet uses in hindi की बात करें तो ओफ्लोक्सासिन एक एंटीबायोटिक दवा है। जिसका इस्तेमाल बहुत सारे संक्रमणों को ख़त्म करने में किया जाता है। हेलो दोस्तों स्वागत है। आपका सॉल्यूशन डैडी प्लेटफार्म पर और आज हम बात करेंगे ओफ़्लॉक्सासिन के बारे में। दोस्तों ओफ़्लॉक्सासिन एक एंटीबायोटिक दवाई है। जिसको हम बैक्टीरिया द्वारा हुए संक्रमण को खत्म करने के लिए इस्तेमाल करते हैं। ओफ़्लॉक्सासिन ज्यादातर 200 एमजी में आती है। यह दवा कॉन्बिनेशन में भी आती है। और इस दवा के आई ड्रॉप्स भी आते हैं। आज जानेंगे इस लेख में यह कैसे काम करती है। इसकी क्या क्या डोज है। और किन-किन कांबिनेशंस में आती है।

ओफ़्लॉक्सासिन क्या है और कैसे काम करती है (Overview of Ofloxacin)

ओफ़्लॉक्सासिन एक क्यूनोलोन (quinolone) या फ्लोरोक्विनॉलोन (fluoroquinolone) एंटीबायोटिक ड्रग है। जो बैक्टीरिया के डीएनए सिंथेसिस को रोकती है। जिस वजह से हमारे शरीर में बैक्टीरिया का संक्रमण खत्म होने लगता है। ओफ़्लॉक्सासिन डीएनए जाइरेज नामक एंजाइम से बॉन्ड करता है ओफ़्लॉक्सासिन का इस्तेमाल हम दोनों बैक्टीरिया के संक्रमण के खिलाफ कर सकते हैं जोकि ग्राम पॉजिटिव और ग्राम नेगेटिव बैक्टीरिया पर अपना अच्छा असर छोड़ती है।

एक बार ओफ़्लॉक्सासिन की डोज लेने पर यह अपना असर शुरू कर देती है। ओफ़्लॉक्सासिन बैक्टीरिया के कोशिका विभाजन को रोकती है। जिस वजह से बैक्टीरिया का संक्रमण धीरे-धीरे खत्म होने लगता है। साथ ही साथ ओफ़्लॉक्सासिन के कुछ कांबिनेशंस भी आते हैं। जिसमें सबसे प्रमुख ओफ्लाक्सासिन आर्निडाजोले है यदि आपने लूज मोशन में किसी चिकित्सक से सलाह ली होगी तो चिकित्सक ने आपको ओफ़्लॉक्सासिन आर्निडाजोले अवश्य प्रिसक्राइब की होगी। ofloxacin tablet uses in hindi में इसके इस्तेमाल जानेंगे।

ओफ़्लॉक्सासिन उपयोग, लाभ (Ofloxacin Tablet Uses In Hindi)

ओफ़्लॉक्सासिन का इस्तेमाल ग्राम पॉजिटिव तथा ग्राम नेगेटिव दोनों ही तरह के बैक्टीरिया संक्रमण को खत्म करने के लिए किया जाता है। हमारे शरीर में कैसा भी जीवाणु संक्रमण हो उसको ओफ़्लॉक्सासिन खत्म कर सकता है। जोकि रेस्पिरेट्री सिस्टम, यूरिनरी ट्रैक्ट इनफेक्शन, स्किन, सॉफ्ट टिशु, में होने वाले संक्रमण को भी खत्म कर देता है। इसके और ofloxacin tablet uses in hindi इस्तेमाल निम्नलिखित हैं।

Ofloxacin Tablet Uses In Hindi RESPIRATORY INFECTION

 

  1. रेस्पिरेट्री सिस्टम में क्रॉनिक ब्रोंकाइटिस- हमारे रेस्पिरेट्री सिस्टम फेफड़ों का बहुत बड़ा रोल होता है। हमारे फेफड़ों में एलबुलाई तथा ब्रोंकाई मौजूद होती हैं। जब भी एलबुलाई तथा ब्रोंकाई में सूजन आती है। तब इसको ब्रोंकाइटिस कहा जाता है। ब्रोंकाइटिस में खांसी, सांस लेने में दिक्कत जैसी समस्याएं हो जाती है। जो कि एक बैक्टीरिया के कारण हुए संक्रमण से होती है। इस संक्रमण को दूर करने के लिए हम ओफ़्लॉक्सासिन का इस्तेमाल करते हैं।
  2. Acute Otitis Media (कान का संक्रमण)- कान के बीच के हिस्से में संक्रमण को जाने से सूजन तथा अत्यधिक दर्द होता है। जिसको हम ओटाइटिस मीडिया या कान का इन्फेक्शन कहते हैं। यह इंफेक्शन बैक्टीरिया के कारण होता है। जिसकी वजह से कान से मैल और पस आने लगता है। इसको दूर करने के लिए हम ओफ़्लॉक्सासिन का इस्तेमाल करते हैं।Ofloxacin Tablet Uses In Hindi इसके और इस्तेमाल जानेंगे।Ofloxacin Tablet Uses In Hindi BACTERIAL INFECTION
  3. बैक्टीरियल इन्फेक्शन(Bacterial Infections)- सामान्यता बैक्टीरियल इनफेक्शन हमारे शरीर में किसी भी जगह हो सकता है ज्यादातर बैक्टीरियल इनफेक्शन हमारी स्किन और शरीर के भीतर होते हैं जोकि अत्यधिक दर्द और बुखार का कारण बनते हैं कभी-कभी यह हमारी त्वचा पर दानों के रूप में दिखाई देते हैं इन सब से बचने के लिए हम ओफ़्लॉक्सासिन का इस्तेमाल करते हैं।
  4. गर्भाशयग्रीवाशोथ (Cervicitis)- महिलाओं के गुप्तांग में होने वाले संक्रमण को सर्विसाइटिस कहते हैं। यह संक्रमण बैक्टीरिया के कारण होता है। इस संक्रमण में पेशाब में जलन तथा अत्यधिक दर्द होता है। जोकि पैथोलॉजी और अल्ट्रासाउंड से सर्विसाइटिस की पुष्टि होती है। इस संक्रमण को दूर करने के लिए भी हम ओफ़्लॉक्सासिन का इस्तेमाल करते हैं। Ofloxacin Tablet Uses In Hindi और जानेंगे।
  5. निमोनिया (Pneumonia)- फेफड़ों में हुए इन्फेक्शन को निमोनिया कहते हैं। इस बीमारी में सांस लेने में दिक्कत सीने में जलन तथा दर्द की शिकायत रहती है। निमोनिया सबसे ज्यादा बच्चों में होता है। आम भाषा में इसको फेफड़ों में पानी आ जाना कहते हैं। जोकि बैक्टीरियल इंफेक्शन के कारण होता है निमोनिया के इलाज के लिए भी हम ओफ़्लॉक्सासिन का इस्तेमाल करते हैं। Ofloxacin Tablet Uses In Hindi इसके और इस्तेमाल जानेंगे।
  6. यूरिनरी ट्रैक्ट इन्फेक्शन (UTI)- पेशाब की नलिकाओं में हुए इंफेक्शन को यूरिनरी ट्रैक्ट इनफेक्शन कहते हैं। यूरिनरी ट्रैक्ट इनफेक्शन के कारण पेशाब अत्यधिक जलन तथा दर्द के साथ आती है। यह इन्फेक्शन में बैक्टीरिया के कारण होते हैं। यूरिनरी ट्रैक्ट इनफेक्शन सबसे ज्यादा महिलाओं में होता है। यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन के इलाज के लिए भी हम ओफ़्लॉक्सासिन का इस्तेमाल करते हैं।
  7. आँख आना (Conjunctivitis)- जब किसी बैक्टीरिया के कारण आंख में संक्रमण हो जाता है। जिसकी वजह से आंख लाल हो जाती है तथा आंख से पानी आने लगता है। और कभी कभी आंख सूजी हुई दिखाई देती है। इस संक्रमण को या इंफेक्शन को कंजेक्टिवाइटिस कहते हैं।  इस बीमारी के इलाज में ओफ़्लॉक्सासिन ofloxacin eye drops दिया जाता है।Ofloxacin Tablet Uses In Hindi EYE INFECTION
  8. लूज मोशन (Traveler’s Diarrhea)- व्यक्ति के पेट में अपच के कारण बार-बार लूज मोशन आना और पेट दर्द होना को ट्रैवलर्स डायरिया कहते हैं। इस डायरिया में शरीर का पानी खत्म होने लगता है। तथा मरीज बेहोशी की हालत में चला जाता है। जोकि एक बैक्टीरिया के संक्रमण के कारण होता है। डायरिया के इलाज के लिए भी हम ofloxacin and ornidazole का इस्तेमाल करते हैं।
  9. Acute Pelvic inflammatory disease-यह संक्रमण महिलाओं और पुरुष दोनों में हो जाता है जोकि गुप्तांगों के पास या जननांगों के पास होता है। इस संक्रमण में सूजन तथा अत्यधिक दर्द होता है। इस संक्रमण को दूर करने के लिए भी हम zenflox oz का इस्तेमाल करते हैं।
  10. Uncomplicated Cystitis- गुर्दे में पथरी के कारण अत्यधिक जलन तथा दर्द होना साथ ही साथ यूरिनरी ट्रैक्ट इनफेक्शन हो जाना। अनकंप्लिकेटेड सिस्टाइटिस की कैटेगरी में आता है यह पुरुष और महिलाओं दोनों में यह बीमारी हो सकती है। इसके इलाज के लिए भी हम ओफ़्लॉक्सासिन का इस्तेमाल करते हैं। ofloxacin tablet uses in hindi में इसके इस्तेमाल जाने।

ओफ़्लॉक्सासिन के साइड इफेक्ट्स

जिस तरह से ओफ़्लॉक्सासिन के उपयोग हैं। उसी तरह से ओफ़्लॉक्सासिन के साइड इफेक्ट्स भी हैं। ओफ़्लॉक्सासिन के ज्यादा इस्तेमाल से उल्टी आना चक्कर आना आम बात है। कभी-कभी इसके इस्तेमाल से पेट में दर्द, दस्त जैसी समस्याएं भी होने लगती है। ओफ़्लॉक्सासिन दवाई को खुद से कभी ना लें यह घातक हो सकता है। चिकित्सक की सलाह से ही ओफ़्लॉक्सासिन का इस्तेमाल करें। यदि ofloxacin की ओवरडोज हो जाए तो तुरंत ही डॉक्टर को दिखाएं।

ओफ़्लॉक्सासिन की डोज

एक वयस्क व्यक्ति ओफ़्लॉक्सासिन 200 mg दिन में दो बार प्रतिदिन के हिसाब से ले सकता है। जो लगभग 5 दिन तक ले सकता है। बच्चों में इसके सिरप तथा ड्रॉप्स भी आते हैं आंख के लिए ओफ़्लॉक्सासिन के आई ड्रॉप्स आते हैं। जोकि आइसोटोनिक सॉल्यूशन होते हैं। इसके सेवन से पहले चिकित्सक से सलाह अवश्य लें।

ओफ़्लॉक्सासिन ब्रांड

Ofloxacin Tablet Uses In Hindi BRAND

कंपनी ब्राण्ड का नाम
CADILA OFLOSTAR OZ, OFLOSTAR 200
CIPLA OFLOX OZ, OFLOX 200, OFLOX OZ SYRUP,
MACLEODS OFLOMAC M, OFLOMAC OZ, OFLOMAC 200, OFLOMAC M FORTE
MANKIND ZENFLOX OZ, ZENFLOX UTI, ZENFLOX 200

अक्सर पूछे जाने बाले सवाल

प्र. ओफ़्लॉक्सासिन और ऑर्निडाज़ोल किसके लिए प्रयोग किया जाता है?

किसी भी बैक्टीरिया द्वारा हुए संक्रमण को खत्म करने के लिए फिर चाहे वह ग्राम पॉजिटिव बैक्टीरिया हो या ग्राम नेगेटिव हम ओफ़्लॉक्सासिन और ऑर्निडाज़ोल का प्रयोग करते हैं। ओफ़्लॉक्सासिन और ऑर्निडाज़ोल प्रोटोजोआ इन्फेक्शन तथा रनिंग डायरिया में इसका सबसे ज्यादा इस्तेमाल होता है। बिना चिकित्सक की सलाह के यह दवा कभी ना लें। इसके और उपयोग Ofloxacin Tablet Uses In Hindi जानें।

प्र. ओफ़्लॉक्सासिन को काम करने में कितना समय लगता है?

ओफ्लाक्सासिन 200 mg की खुराक लेने के बाद यह लगभग आधे से 1 घंटे में अपना असर दिखाना शुरू कर देती है। जिसकी half-life 9 घंटा है। यह डिपेंड करता है। कि आपने किस ब्रांड का और ओफ़्लॉक्सासिन का कितना डोज लिया है। Ofloxacin Tablet Uses In Hindi खुराक का हैडिंग पढ़ें।

प्र. मुझे ओफ़्लॉक्सासिन 200mg कब लेना चाहिए?

यदि आपको किसी भी तरह का बैक्टीरिया इंफेक्शन है। तो आप ओफ़्लॉक्सासिन 200mg ले सकते हैं। उपरोक्त में लिखें Ofloxacin Tablet Uses In Hindi उपयोग को देखकर भी आप ओफ़्लॉक्सासिन 200mg ले सकते हैं। इसको लेने से पहले चिकित्सक की सलाह लेना आवश्यक है। बिना चिकित्सक की सलाह के यह दवा कभी ना ले। ओफ़्लॉक्सासिन 200mg किसी भी दवा की दुकान पर आसानी से मिल जाती है।

प्र. ओफ्लोक्स का उपयोग क्यों किया जाता है?

ओफ्लोक्स, सिपला कंपनी का एक प्रोडक्ट है। जिसमें ओफ्लाक्सासिन 200mg होती है। ओफ़्लॉक्सासिन एक एंटीबायोटिक है। इसलिए इसका उपयोग बैक्टीरियल संक्रमण को खत्म करने के लिए किया जाता है।

प्र. क्या ओफ़्लॉक्सासिन किडनी के लिए सुरक्षित है?

उपरोक्त से एक प्रतिजैविक या एंटीबायोटिक है। और इसकी half-life 9 घंटा होती है। इसलिए इस की खुराक को लेने के बाद आपको पर्याप्त मात्रा में पानी पीना होता है। यदि आप पर्याप्त मात्रा में पानी पीते हैं। फिर यह आपकी किडनी को कोई नुकसान नहीं करेगी। इसके साइड इफेक्ट्स जानने के लिए Ofloxacin Tablet Uses In Hindi दुष्प्रभाव हैडिंग पढ़ें।

निष्कर्ष

दोस्तों। इस लेख ofloxacin tablet uses in hindi में हमने इसके इस्तेमाल जाने। इसके साथ साथ इसके दुष्प्रभाव और डोज को भी जाना। आशा करता हूँ। यह लेख आपको अच्छा लगा होगा। इस लेख से सम्बंधित आपका कोई प्रश्न या सुझाव हो। तो निःसंकोच हमसे संपर्क करें। ज्यादा जानकारी के लिए हमारे सोशल मीडिया एकाउंट्स को लाइक और फॉलो करें। धन्यबाद।

यह भी जानें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *