सिर दर्द और आँखों में दर्द के कारण और 100% Final इलाज

सिर दर्द और आँखों में दर्द के कारण

सिर दर्द और आँखों में दर्द के कारण क्या हैं जानेंगे इस लेख में। हैलो दोस्तों। sar dard बहुत सारे कारणों से हो सकता है। जिसमे माइग्रेन, स्ट्रेस, सिर में चोट लगना (head injury), घबराहट, और भी अलग कारण शामिल हैं। जिसको एक क्वालिफाइड चिकित्सक (डॉक्टर) बेहतर समझता है। और आज बात करेंगे निम्न टॉपिक्स पर।

  • सिर दर्द और आँखों में दर्द के कारण। (Headache meaning in Hindi)
  • सिर दर्द की दवा और उपचार। (Treatment of Headache or Migraine)

सिर दर्द और आँखों में दर्द के कारण। (Headache meaning in Hindi)

सिर दर्द एक बेचैन कर देने बाली बीमारी है। या हम सिर दर्द को एक लक्षण (symptom) भी कह सकते हैं। जो बहुत सारे कारणों से हो जाता है। यह सिर दर्द हमारे दिमाग में किसी भी लोब में हो सकता है। ज्यादातर यह दर्द आँख में आई कमजोरी या समय से भोजन न करने के कारण होता है। जिसे हम माइग्रेन (migraine) के नाम से भी जानते हैं। यदि आपको रोजाना सिर दर्द के कारण बेचैनी महसूस होती है। तो यह आँख में आई कमी के कारण हो सकता है। जिसके और भी कारण हो सकते हैं।

  • मोतियाबिंद (Glaucoma

मोतियाबिंद सिर दर्द और आँखों में दर्द के कारण में शामिल है। इस बीमारी में आँख से धुंधला दिखाई देता है। जिसमे आंख का लेंस धुंधला या ब्लर हो जाता है। जिस वजह से आंख में और सिर में दर्द होना शुरू हो जाता है। मोतियाबिंद के इलाज के लिए आंख का ऑपरेशन किया जाता है। जिसमे ऑपरेशन के द्वारा आँख में कृत्रिम लेंस डाला जाता है।

  • तनाव और ड्रोसीनेस (Tension and Depression)

दिमागी या मानसिक समस्याएँ जैसे स्ट्रेस, तनाव और डिप्रेशन के कारण भी सिर दर्द होता है। जो सिर दर्द और आँखों में दर्द के कारण बनता है यह मानसिक समस्याएँ व्यापारिक और व्यवहारिक हो सकती हैं। जिसमे घरेलु कलह भी शामिल है यदि इस प्रकार की समस्या हो तो एक साइकैट्रिस्ट से सलाह लेनी चाहिए। 

  • अधकपारी (Migraine)

अधकपारी या माइग्रेन जैसी समस्या में आँख के पीछे या दिमाग के फ्रंटल लोब में दर्द होता है। जो लम्बे समय तक बना रहता है। माइग्रेन दर्द की तीव्रता घटती बढती रहती है। जो ज्यादा ब्लड प्रेशर के कारण भी होता है।

  • सिनुसिस में सूजन (साइनोसाइटिस)

सिनुसिस (sinuses) हमारी आँखों के बीच में स्तिथ एक खली स्पेस होता है। जो माथे या चेकबोन के बिलकुल पीछे होता है। इस खली जगह में म्यूकस भरा रहता है। जो हमारी खिंची गई सांस में मौजूद धूल और मिटटी के कण और एलर्जन से बचाता है। यदि इस जगह सूजन (inflammation) हो जाती है। तो इसे साइनोसाइटिस कहते है जिससे हमारी आँखों से पानी आना शुरू हो जाता है। और यह सिर दर्द का कारन बनता है।

  • सिर की चोट (Trauma)

यदि किसी दुर्घटना वस सिर में चोट लग जाये तो सिर में असहनीय दर्द होना शुरू हो जाता है। जो एक गंभीर बीमारी का रूप ले लेती है सिर की चोट या तो खुली होती है। या तो अंदरूनी होती है। जिसको गुम चोट भी बोलते हैं इस तरह की head injury में सिर के अन्दर ब्लड के थक्के जैम जाते है। जो मरीज को कोमा में ले जाते हैं।

  • मदिरा पान (consumption of Alcohol or Wine)

शराब के सेवन भी सिर दर्द और आँखों में दर्द के कारण बनता है। और हर जगह यह भी लिखा होता है शराब का सेवन स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है। और ज्यादा मात्रा में शराब का सेवन मौत का कारण भी बनता है।

  • लाइफस्टाइल (LIfestyle)

लाइफस्टाइल के बदलाव का असर सीधे आपकी बॉडी पर पड़ता है। यदि आपका भोजन करने का समय रेगुलर नहीं है। और आप कभी किसी भी वक़्त भोजन कर लेते हैं। और आपकी दिनचर्या गड़बड़ रहती है तो यह रोजाना सिर दर्द के कारण बन सकता है। लाइफस्टाइल का सीधा प्रभाव आपके दिमाग पर पड़ता है। जिसको नए लाइफस्टाइल को एडजस्ट करने में बहुत मशक्कत करनी होती है जिस वजह से सिर दर्द बन जाता है। और अगर आपके नींद लेने के समय में बदलाव होते हैं। तो भी आपको सिर दर्द जैसी समस्या हो सकती है।

  • ज्यादा रौशनी और शोर (Excessive Light and Noise)

बहुत ज्यादा रौशनी भी सिर दर्द बढ़ा देती है। चूँकि किसी भी प्रकार की ज्यादा रौशनी सीधे हमारी आँखों पर असर डालती है।और इसके परिणाम स्वरुप हमे सिर दर्द और आँखों का दर्द होने लगता है। बहुत ज्यादा तेज आवाज़ भी हमारे दिमाग पर असर डालती है। जो सिर दर्द और आँखों में दर्द के कारण बनती है।

सिर दर्द की दवा और उपचार। (Treatment of Headache or Migraine)

यदि आपको लगातार सिर दर्द और आँखों में दर्द के कारण बेचैनी रहती है। तो आपको तुरंत एक चिकित्सक (Doctor) को दिखाना चाहिए। चिकित्सक आपके लक्षणों को देखकर सिर दर्द होने का कारण बता सकते है। और आपको कुछ दवाएं भी लिख कर दे सकते हैं। चिकित्सक आपको, लाइफस्टाइल बदलने की भी सलाह दे सकते हैं। जो सिर दर्द का मंत्र की तरह काम करती है और यही सिर दर्द का पक्का इलाज है जो निम्न है। सिर दर्द की दवा बिना चिकित्सक की सलाह के न लें।

सिर दर्द और आँखों में दर्द के कारण और उपचार

  • दवाइयां (Medication)

जब भी आप यह लक्षण लेकर किसी चिकित्सक के पास जाते हैं। तो वोह आपके लक्षणों को देखकर कुछ दवाएं लिखते हैं। जिसमें ज्यादातर दवाएं सिर दर्द बुखार की टेबलेट नाम लिस्ट में शामिल होती हैं। और चिकित्सक आपको नारकोटिक्स या नींद की दवाएं भी लिख सकते हैं। जिसमे से कुछ दवाएं निम्न हो सकती हैं। डॉक्टर की सलाह के बिना कोई भी मेडिसिन न लें यह हानिकारक हो सकती है

  •  एस्पिरिन (Aspirin)
  • पेरासिटामोल (Paracetamol)
  • केटेरोल डी टी (Ketorol D T)
  • अल्प्रज़ोलम (Alprazolam)
  • सोने का समय (Sleep Time)

अपने सोने का समय दुरुस्त करें और कम से कम आठ घंटे की नींद लें। अन्यथा आप इनसोम्निया के शिकार हो जायेंगे। और आपको सिर दर्द भी होने लगेगा। जिसकी वजह आपके आँख में भी दर्द हो सकता है।

  • नियमित व्यायाम (Daily Workout)

नियमित व्यायाम करने से हमारी बॉडी तो सुडौल बनती ही है। साथ ही हमारी शरीर से बहुत साडी बीमारियाँ दूर भाग जाती है। जिसमे सिर दर्द और आँखों का दर्द भी शामिल है।

निष्कर्ष

सिर दर्द और आँखों में दर्द के कारण यह सभी हैं। और आज हमने जाना यह होते कैसे हैं। और इनसे कैसे बचें। दोस्तों अगर आपको यह लेख अच्छा लागा हो तो अपने दोस्तों में शेयर करें। अगर आपका इस लेख से सम्बंधित कोई प्रश्न या सुझाव हो तो हमसे संपर्क करें संपर्क करने की जानकरी contact us पेज पर उपलब्ध है।

यह भी पढ़ें

Leave a Reply

Your email address will not be published.