|

Cinchona meaning in Hindi. Cinchona no.1 Gift of Nature.

Cinchona meaning in Hindi

Cinchona meaning in Hindi. में आज हम Cinchona हर्बल दवा के बारे में जानेंगे। यह दवा कहाँ से प्राप्त होती है इसमें क्या क्या मेडिसिनल गुण हैं सिनकोना के इस्तेमाल क्या हैं दोस्तों स्वागत है आपका सौलूशन डैडी वेबसाइट पर। और आज हम लोग Cinchona को विस्तार से समझेंगे।

समानार्थी शब्द। (Cinchona meaning in Hindi)

सिनकोना को हिंदी में या आम भाषा में “कुनैन” कहते हैं। सिनकोना को और भी अलग नामों से जाना जाता है। जेसुइट की छाल (Jesuit’s bark), पेरू की छाल (Peruvian bark) भी कहते हैं। Cinchona meaning in Hindi में विस्तार से इसके उपयोग जानेंगे।

जैविक और भौगोलिक स्त्रोत। (Biological & Geographical Source)

ज्यादातर सिनकोना की छाल को इस्तेमाल किया जाता है। जो Cinchona, calisaya Wedd की छाल है। और यह एक अल्कोलोइड होता है। यह पेड़ रूबीइसी फॅमिली में आता है। भारत, बोलीविया, कोलंबिया, इक्वाडोर, पेरू, तंजानिया, ग्वाटेमाला, इंडोनेशिया और श्रीलंका इन देशों में सिनकोना पाया जाता है। भारत में इसकी खेती अन्नामलाई पहाड़ियों (कोयम्बटूर) में की जाती है। और तमिलनाडु में पश्चिम बंगाल के दार्जिलिंग क्षेत्र में नीलगिरी पहाड़ियाँ में भी इसकी खेती की जाती है। जो एक बड़े पैमाने पर होती है। चूँकि भारत दवाइयों का बहुत बड़ा निर्यातक है। Cinchona meaning in Hindi में समझाने का पूर्ण प्रयास रहेगा।

इतिहास। (History)

सिनकोना सन 1513 में पेरू में खोजा गया था। जिसको पेरू के वायसराय के प्रयासों के कारण खोजा गया था। सिनकोना उच्च ऊंचाई  (1500-2500) पर एंडीज के पूर्वी ढलानों में पाए जाते हैं सबसे पहले इसकी छाल को Antipyretic की तरह इस्तेमाल किया गया था। सन 1677 में लन्दन फर्मकोपिया में इसको इन्फ्यूजन के रूप में रिपोर्ट किया गया था। सन 1742 वायसराय के सम्मान में, लिनिअस ने जीनस को सिनकोना के रूप में वर्णित किया था। बाद में पेलेटियर और कैनवेंटन द्वारा 1820 में कुनैन और सिनकोनीन को आइसोलेटेड किया गया। उसके बाद सिकोना और इसके अल्कोइड मिक्सचर को सन 1860 में दवाई के रूप में इस्तेमाल किया जाने लगा। आप Cinchona meaning in Hindi को विस्तार से पढ़ रहे हैं।

Macroscopic Characters.

सिनकोना छाल में एक विशेष तरह की गंध आती है। और यह कुछ Astringent की तरह होता है। सिनकोना दवाई का स्वाद अत्यंत ही कड़वा होता है। और इसकी छाल मुड़ी हुई होती है। सिनकोना की छाल भी दो तरह की होती है। तने की छाल या stem bark और जड़ की छाल या root bark कहते हैं। तने की छाल लगभग 30 सेंटीमीटर लम्बी और 2 से 6 मिलीमीटर चौड़ी होती है। तने की छाल की बाहरी परत का रंग भूरा और ग्रे होता है। इसका यह रंग इस पर लगे फफूंद की बजह से होता है। और इसकी भीतरी परत पीली भूरे रंग की होती है। जो कभी कभी लाल रंग की भी दिखती है। और सिनकोना का रंग इसकी स्पेसीस के हिसाब से अलग भी हो सकता है। जड़ की छाल 2 से 7 सेंटीमीटर लम्बी और सर्पीले आकर की होती है। जिसका रंग तने की छाल के रंग के सामान होता है। Cinchona meaning in Hindi में अपने इसके फिजिकल कैरेक्टर को जाना।

Microscopic Characters.

सिनकोना की छाल को जब हम माइक्रोस्कोप में देखते हैं तो हमे बहुत साड़ी कोशिकाएं दिखाई देती हैं। सिनकोना की छाल विशिष्ट तरीके की होती है। इस छाल की कॉर्क कोशिकाएं पतली और छोटी होती हैं। इसकी स्त्रावी कोशिकाएं फ्लोएम में जा के खुलती हैं। सिनकोना की छाल में स्टार्च भी पाया जाता है। मेदुलरी रेस और परेन्कैमा सेल भी मौजूद होती हैं।

Chemical Constituents. (रासायनिक घटक)

सिनकोना की छाल में लगभग 25 एल्कलॉइड होते हैं, जो क्विनोलिन समूह से belong करते हैं। जिसमे सबसे महत्वपूर्ण अल्कलॉइड कुनैन, क्विनिडाइन, सिनकोनीन और सिनकोनिडिन हैं। इसके अलावा कम महत्व के एल्कलॉइड क्विनिसिन, सिनकोनीसिन हाइड्रोक्विनिन, हाइड्रोसिनकोनिडाइन और होमोसिनकोनिडाइन हैं। कुनैन और क्विनिडाइन एक दूसरे के स्टीरियोइसोमर्स होएत हैं। क्युनीन इसके सल्फेट के कारण मेडिकली एक्टिव होती है एल्कलॉइड के अलावा, सिनकोना में क्विनिक एसिड और सिनकोटैनिक एसिड भी होता है। एल्कलॉइड इन अम्लों के लवण के रूप में मौजूद होते हैं। सिनकोना की छाल में क्विनोविन नामक ग्लाइकोसाइड भी होता है, टैनिन, और कड़वा आवश्यक तेल की भी मात्रा होती है। फार्मास्यूटिकल की दृष्टी से Quinine sulphate प्रमुख है।क्विनिडाइन अपने भौतिक और रासायनिक गुणों में कुनैन के समान है। और इसमें उच्च जल घुलनशीलता होती है। Cinchona meaning in Hindi में अपने इसके केमिकल तत्व जाने।

रासायनिक परीक्षण (Chemical Tests)
  • पाउडर दवा को सूखी परखनली में थोड़ा ग्लेशियल एसिटिक एसिड के साथ गर्म करने पर  बैंगनी वाष्प के बुलबुले परखनली के ऊपरी भाग में बनते हैं।
  • Thalleoquin test- ब्रोमिन वाटर और पतले अमोनिया सौलुशन के साथ यह हरा रंग देता है।
  • क्विनिडाइन विलयन सिल्वर नाइट्रेट विलयन के साथ एक सफेद अवक्षेप देता है, जो कि नाइट्रिक एसिड में घुलनशील है।
गुणवत्ता के मानक।

सिनकोना को जब पूरी तरह से जलाया जाता है तो इसकी राख 4% से ज्यादा नहीं होनी चाहिए। और सिनकोना बाह्य कार्बनिक पदार्थ 2 प्रतिशत से ज्यादा नहीं होना चाहिए।

सिनकोना के उपयोग (Cinchona meaning in Hindi)
  • सिनकोना में क्युनीन नामाक साल्ट होता है जिसका इस्तेमाल मलेरिया के इलाज में किया जाता है। और मलेरिया की सबसे कारगर दवा भी यही है। जो बाज़ार में क्लोरोक्युइन नाम से आती है।
  • सिनकोना के टिंक्चर सौलूसन भी बनाये जाते हैं। जो पेट दर्द और antipyretic की तरह काम करते हैं।
  • क्युनीन या कुनैन एक प्रोटोप्लास्मिक जहर है। जो हमारे शरीर में मौजूद प्रोटोप्लास्म और प्रोटोजोआ को मरता है। जिसमें Plasmodium vivax, P. falciparum, P. malarie and P. fatal, शामिल हैं।
  • इस पर और रिसर्च के बाद पता चला है। इसके इंजेक्शन और इन्फ्यूजन का रिजल्ट या परिणाम बहुत अत्यधिक है।
  • क्विनिडाइन मुख्य रूप से एक कार्डियक डिप्रेसेंट है।

खुराक। (Dose)

सिनकोना पाउडर को 300 मिलीग्राम से 1 ग्राम तक दिन में ले सकते हैं। इसके अलावा इसकी दूसरी फॉर्म क्युनीन सल्फेट को 1 ग्राम प्रतिदिन दो दिनों के लिए या 600 मिलीग्राम प्रतिदिन पांच दिनों के लिए लिया जाता है।

निष्कर्स। 

दोस्तों। इस लेख Cinchona meaning in Hindi में हमने इसके इस्तेमाल जाने। इसके साथ साथ इसके दुष्प्रभाव और डोज को भी जाना। आशा करता हूँ। यह लेख आपको अच्छा लगा होगा। इस लेख से सम्बंधित आपका कोई प्रश्न या सुझाव हो। तो निःसंकोच हमसे संपर्क करें। ज्यादा जानकारी के लिए हमारे सोशल मीडिया एकाउंट्स को लाइक और फॉलो करें। धन्यबाद।

यह भी जानें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.