Cartridge Refill लेज़र प्रिंटर और कलर प्रिंटर की कैसे होती है और इसके फायदे

cartridge refill

नमस्कार दोस्तों स्वागत है।आपका सॉल्यूशन डैडी प्लेटफार्म पर और आज हम बात करेंगे प्रिंटर की कार्ट्रिज के बारे में, कैसे कार्ट्रिज को रिफिल किया जाता है। और नई कार्ट्रिज न लेकर पुरानी कार्ट्रिज को रिफिल करना कहा तक सही है। पुरानी कार्ट्रिज को रिफिल करने में कितना खर्चा आता है। पुरानी कार्ट्रिज को कितनी बार रिफिल किया जा सकता है। इंकजेट प्रिंटर कार्ट्रिज और लेजर प्रिंटर कार्ट्रिज में क्या अंतर होता है। कार्ट्रिज के आधार पर कौन सा प्रिंटर सही है और हमको कौन सा प्रिंटर लेना चाहिए।

प्रिंटर कार्ट्रिज

प्रिंटर सामान्यता दो प्रकार के होते हैं। लेजर प्रिंटर और इंक्जेट प्रिंटर इनके नाम के स्वरुप कार्ट्रिज भी इनमे अलग अलग प्रकार की पड़ती हैं। लेजर प्रिंटर से हम केवल ब्लैक एंड व्हाइट प्रिंट आउट ले सकते हैं। लेज़र प्रिंटर में एक बड़ी लेज़र कार्ट्रिज पड़ती है। जिसमे कई प्रकार के रोलर और गियर काम करते हैं। और इसमें काली पाउडर इंक पड़ती है जिससे केबल मोनो क्रोम प्रिंट होता है। cartridge refill करने के लिए हमें इसको पेंचकस से खोलना पड़ता है। और इंकजेट प्रिंटर में प्रिंट करने के लिए इसका हेड काम करता है जो दाएँ और बाएं तेजी मूव करता है। जिससे प्रिंटआउट निकलता है। इंकजेट प्रिंटर से हम रंगीन और ब्लैक एंड व्हाइट दोनों तरह के प्रिंटआउट ले सकते हैं। इसलिए इसमें चार रंग की तरल इंक पड़ती है। जिसमे काली, सियान, मैजंटा, और पीले रंग की इंक शामिल है। यह इंक प्रिंटर के अलग अलग खानों में भरी होती है। जो पतली नलियों द्वारा हेड तक पहुचती है। इन्ही चार रंगों से सारे रंग बनते हैं चाहे वह कैसा भी रंग क्यों न हो प्रिंटर के बारे में ज्यादा जानने के लिए आप हमारा प्रिंटर पर लिखा लेख ( प्रिंटर क्या है और इसके प्रकार। )पढ़ें। जिसमे प्रिंटर के बारे में विस्तार से बताया गया है।

प्रिंटर कार्ट्रिज रिफिल कैसे करें

प्रिंटर cartridge refill करने से पहले हमें यह देखना होगा। की प्रिंटर कौन सा है क्यूंकि लेज़र प्रिंटर और इंकजेट प्रिंटर दोनों की कार्ट्रिज अलग अलग होती हैं। और इनमें इंक भी अलग अलग पड़ती है। लेज़र प्रिंटर में पाउडर इंक जबकि इंकजेट प्रिंटर में तरल इंक पड़ती है। उसी प्रकार इन कार्ट्रिज को रिफिल करने के तरीके भी अलग अलग हैं। जो निम्न लिखित हैं।

how to cartridge refill

लेज़र कार्ट्रिज को रिफिल करने का तरीका

लेज़र प्रिंटर की cartridge refill करने से पहले हमें यह जानना होगा। की उसमे कौन सी इंक पड़ती यह जानने के लिए आप इन्टरनेट का सहारा ले सकते हैं। अपने प्रिंटर का मॉडल सर्च कीजिये और देखिये इसमें कौन सी इंक पड़ती है। इन पाउडर इंक को इंक टोनर भी कहते हैं। पाउडर इंक कई प्रकार की होती हैं। जिनमे 12A, 15A, 49A, 53A, 55A, 28A, 26A इत्यादि। एक बार जब आपको पता चल जाये कि कार्ट्रिज में कौन सी इंक पड़ेगी। फिर आपको देखना है आपके कार्ट्रिज में कोई चिप तो नहीं लगी है। अगर आपकी कार्ट्रिज में चिप लगी हो तो मेरी सलाह है आप कार्ट्रिज को खुद से रिफिल न करें। और किसी प्रोफेशनल से रिफिल कराएँ। अगर आप खुद से रिफील करते हैं और चिप थोड़ी सि भी डैमेज होती है। तो आपकी कार्ट्रिज खराब हो सकती है। जिससे आपको भारी नुकसान होगा।

यदि आपकी कार्ट्रिज में यह चिप नहीं लगी है। फिर आप साबधानी पूर्वक अपनी cartridge refill कर सकते हैं। बस आपको अपनी कार्ट्रिज प्रिंटर से बहार निकलना है। और उस कार्ट्रिज के दोनों दाएँ और बाएं पेंच खोलने है। उसके बाद साइड में लगा स्प्रिंग खोलना है फिर आपको ड्रम निकालना है। जैसे ही ड्रम निकल जाये फिर आपको एक गद्दी नुमा रोलर दिखाई देगा। उसको एक चिमटी की मदद से बाहर निकाल लीजिये उसके बाद दाएँ और बाएं देखिये आपको छुपी हुई पिन दिखाई देगी उस पिन को एक नुकीली सुई या सूजे की मदद से बाहर निकालें। फिर आपकी कार्ट्रिज दो भागों में वट जाएगी इसमें से एक भाग में मैग्नेटिक रोलर होता है और उसी में एक बड़ा जार टाइप दिखाई देगा। जिसके उपर सफ़ेद रंग का ढक्कन होगा उसको खोलिए और एक कीप की मदद से उसमे इंक भर दीजिये। और बापस से उसको बंद कर दीजिये।

इंक जेट कार्ट्रिज को रिफिल करने का तरीका

इंक जेट प्रिंटर में दो प्रकार की कार्ट्रिज पड़ती सील्ड इंक कार्ट्रिज और इंक टैंक कार्ट्रिज। इनके नाम के आधार इन cartridge refill भी अलग अलग तरीको से किया जाता है। चूँकि इनमे चार प्रकार के रंगों का इस्तेमाल किया जाता है। और इस प्रिंटर रंगीन प्रिंट लिए जाते हैं। इसलिए इसका कार्य जटिल होता है इन कार्ट्रिज को रिफिल करने का तरीका निम्नलिखित है।

इंक टैंक कार्ट्रिज रिफिल करने का तरीका

इंक टैंक कार्ट्रिज को रिफिल करना सबसे आसन होता है। इस कार्ट्रिज को रिफिल करने के लिए बस आपको चार रंग की अलग अलग तरल इंक की जरुरत होती है। जो आपको बाजार में आसानी से मिल जाएगी यह इंक बोतलों में आती है। मेरा आपसे अनुरोध है की आप जैनुअन इंक ही ख़रीदे अन्यथा लोकल इंक आपके प्रिंटर के हेड को ख़राब कर सकती है। अब अपने प्रिंटर के टैंक के ढक्कनों को खोलें और उनके रंगों के अनुसार उनमे रंग भर दें बस इतना सा प्रोसेस है। आगे का काम प्रिंटर ऑटोमेटिक कर लेता है। जैसे अगर इंक की नलियों में एयर आ जाये तो प्रिंटर हेड क्लीन के माध्यम से आप एयर को निकल सकते हैं। बेहतर यह होगा आप टैंक पूरा खली होने से पहले इसको रिफिल कार लें।

सील्ड इंकजेट कार्ट्रिज को रिफिल करने का तरीका

सील्ड इंकजेट cartridge refill करना काफी मुश्किल काम है। यदि अपने इससे पाहे कभी भी सील्ड इंकजेट कार्ट्रिज को रिफिल नहीं किया है। तो मेरी आपको सलाह है आप इस कार्ट्रिज को एक प्रोफेशनल से ही रिफिल करवाएं। खुद प्रयास न करें इसको रिफिल करने के लिए हमें सिरिंज की जरुरत होती है। और सील्ड कार्ट्रिज दो होती है एक में काला रंग तथा दूसरी कार्ट्रिज में तीनो रंगीन रंग भरे जाते हैं यह कार्ट्रिज दो या तीन बार रिफिल करने के बाद ख़राब हो जाती है।

निष्कर्ष

दोस्तों आज हमने जाना हम प्रिंटर की कार्ट्रिज को किन किन तरीकों से रिफिल कर सकते हैं। आशा करता हूँ आपको इस लेख से समझ आ गया होगा प्रिंटर की कार्ट्रिज को कैसे रिफिल किया जाता है। यदि आपका इस लेख से सम्बंधित कोई प्रश्न या सुझाव हो तो हमसे संपर्क करें। धन्यबाद।

  • यह भी पढ़े।

Leave a Reply

Your email address will not be published.