Albendazole Tablet Uses in Hindi: उपयोग, फायदे, खुराक, साइड इफेक्ट्स

Albendazole Tablet Uses in Hindi

Albendazole Tablet Uses in Hindi हेलो दोस्तों स्वागत है। आपका सॉल्यूशन डैडी प्लेटफार्म पर और आज हम बात करेंगे एल्बेंडाजोल के बारे में। दोस्तों इस गोली को आम भाषा में पेट के कीड़ों की गोली भी कहा जाता है। जो कि बाजार में आसानी से उपलब्ध है। पेट में कीड़े या एस्केरिस हो जाने पर इस दवाई का इस्तेमाल किया जाता है। और भी अलग पैरासिटिक इंफेक्शन के लिए अल्बेंडाजोल का इस्तेमाल किया जाता है।

Albendazole Tablet Uses in Hindi (विवरण)

एल्बेंडाजोल 400 को कई सारी कंपनियों द्वारा बनाया जाता है। जिसमें सबसे खास और सबसे ज्यादा बिकने वाली कैडिला कंपनी द्वारा एल्बेंडाजोल 400 बनाया जाता है। जिसकी स्टोरेज क्षमता 30 डिग्री सेंटीग्रेड से कम तापमान पर किया जाता है। यह एक स्टेप में एक गोली ही आती है जिसकी कीमत लगभग 10 से ₹12 होती है। अल्बेंडाजोल 400 एक एंटीपैरासाइटिक दवा है। जिसका इस्तेमाल पेट में हुए या शरीर के किसी हिस्से में हुए पैरासिटिक इनफेक्शन को या संक्रमण को खत्म करने के लिए किया जाता है।

Adliv Syrup लीवर की पूर्ण सुरक्षा। 

इसका सबसे ज्यादा इस्तेमाल बच्चों में हुए एस्केरिस इंफेक्शन को खत्म करने के लिए किया जाता है। यह दवा सरकारी अस्पतालों द्वारा घर-घर मुफ्त में बांटी जाती है। तथा सरकारी विद्यालयों में यह दवा हर बच्चे को मुफ्त में दी जाती है। इस दवा को खुद से कभी नहीं लेना चाहिए। हमेशा चिकित्सक की सलाह के बाद ही एल्बेंडाजोल 400 का इस्तेमाल करें। अल्बेंडाजोल 400 और भी अलग कंपनियों द्वारा बनाया जाता है। जिसमें जेंटल 400, नोवर्म टेबलेट नाम से भी आती है। Albendazole Tablet Uses in Hindi में इसके इस्तेमाल जानेंगे।

Albendazole Tablet Uses in Hindi (इस्तेमाल)

एल्बेंडाजोल 400 पेट के कीड़ों की दवा भी कहा जाता है। क्योंकि यह दवा परजीवी कृमियों के संक्रमण को खत्म करती हैं। इसलिए यह एक एंटीपैरासाइटिक दवा के रूप में जानी जाती है। इस दवा का इस्तेमाल एंटीबायोटिक की तरह की किया जाता है। एल्बेंडाजोल 400 का इस्तेमाल बच्चों में हुए फीता कृमि और एस्केरिस या अन्य किसी कर्मी द्वारा संक्रमण को खत्म करने में किया जाता है।

दाद को जड़ से ख़त्म करें। 

यह संक्रमण बच्चों में बहुत जल्द हो जाते हैं। क्योंकि बच्चे अक्सर मिट्टी खाना शुरू कर देते हैं। जिस वजह से उनके मुख द्वार से इन कृमियोँ के अंडे बच्चों के पेट में चले जाते हैं। जिस कारण यह इंफेक्शन बहुत ही जल्द बच्चों में हो जाता है। इन सारे संक्रमण को दूर करने के लिए अल्बेंडाजोल 400 को सिरप टेबलेट के रूप में बच्चों को खिलाते हैं। जिससे बच्चों में हुए संक्रमण खत्म हो सके। Albendazole Tablet Uses in Hindi हमने इसके इस्तेमाल जाने।

Albendazole Tablet Uses in Hindi1

दुष्प्रभाव (Albendazole Tablet के साइड इफेक्ट्स)

जैसा कि हमने ऊपर Albendazole Tablet Uses in Hindi में जाना की एल्बेंडाजोल 400 एक एंटीपैरासाइटिक ड्रग है। जिस तरह से इसके उपयोग हैं। उसी तरह से इसके कुछ दुष्प्रभाव भी हैं। इसके ज्यादा खास दुष्प्रभाव नहीं है। जो शरीर पर लंबे समय तक इफेक्ट डालते हो। फिर भी इस दवा को खुद से कभी नहीं लेना चाहिए। हमेशा चिकित्सक की सलाह के बाद ही इस दवा का सेवन करना चाहिए। मॉन्टेयर एलसी के दुष्प्रभाव निम्नलिखित हैं।

Sinarest टेबलेट के क्या उयोग हैं।

  • लीवर में दिक्कत होना
  • घबराहट होना
  • मिचली आना
  • डायरिया या दस्त होना
  • उल्टी होना
  • मुंह सूखना
  • सर दर्द होना
  • थकान होना
  • भूख न लगना

Albendazole Tablet को लेने का तरीका या डोज

Albendazole Tablet एक पत्ते में एक गोली ही आती है। इसकी एक गोली एक वयस्क आदमी 1 हफ्ते में एक बार ले सकता है। बच्चों के लिए इसके Albendazole kid syrup आते हैं। मॉन्टेयर एलसी को हमेशा खाना खाने के बाद लेना चाहिए। खाना खाने से पहले Albendazole Tablet को नहीं लेना चाहिए। यदि आप ड्राइविंग करने जा रहे हैं। तो आपको Albendazole Tablet का सेवन कर सकते हैं। यदि कोई गर्भवती महिला Albendazole Tablet का सेवन करती है। तो उस महिला को अपने चिकित्सक से सलाह जरूर लेना चाहिए। Albendazole Tablet की डोज वजन तथा उम्र के हिसाब से अलग-अलग हो सकती है।

Albendazole Tablet Uses in Hindi2

Zerodol SP इस्तेमाल क्या क्या हैं

Albendazole Tablet के अलग ब्रांड

Albendazole साल्ट का नाम है। इसको कई कंपनियों द्वारा अलग अलग नामों से बनाया जाता है। और Albendazole सिरप भी आते हैं। Albendazole Tablet के ब्रांडो के नाम निम्नलिखित हैं।

S.NO. BRAND NAME COMPANY NAME
1 BENDEX 400 CIPLA PRIVATE LIMITED
2 ZENTEL 400 GSK
3 NOWORM ALKEM
4 ABD-400 INTAS
5 BANDY 400 MANKIND
6 ALBEKEM ALKEM

पूछे जाने बाले प्रश्न

प्रश्न- एल्बेंडाजोल कौन सी बीमारी के लिए दी जाती है?

उत्तर- एल्बेंडाजोल टेबलेट एक एंटीपैरासाइटिक और एंटीबायोटिक दवाई है। जिसको शरीर में पैरासिटिक इंफेक्शन या संक्रमण होने पर इस्तेमाल किया जाता है। इसका इस्तेमाल खासतौर पर बच्चों में होने वाले एस्केरिस इंफेक्शन में दिया जाता है। जिसको आम भाषा में पेट के कीड़े की दवा कहा जाता है। यह दवा टेबलेट तथा सिरप के फॉर्म में भी आती है। सिरप खासतौर से छोटे बच्चों के लिए होता है। ज्यादा जानने के लिए Albendazole Tablet Uses in Hindi को पढ़ें।

प्रश्न- एल्बेंडाजोल टेबलेट खाने से क्या होता है?

उत्तर- एल्बेंडाजोल टेबलेट एक प्रीति कर्मी तथा प्रतिजैविक दवाई है। जिसको खाने से शरीर में हुए पैरासिटिक इंफेक्शन दूर हो जाते हैं। तथा अलग बैक्टीरियल इनफेक्शन भी इस दवाई से ठीक हो जाते हैं। यह दवा खासतौर पर पेट के कीड़ों के लिए दी जाती है।

प्रश्न- एल्बेंडाजोल टेबलेट कब खाना चाहिए?

उत्तर- यदि आपके शरीर में कोई भी पैरासिटिक इंफेक्शन है। या कृमियो का संक्रमण हो गया है। तो आप एल्बेंडाजोल की टेबलेट ले सकते हैं। इस दवाई को लेने से पहले चिकित्सक की सलाह अवश्य लें। यह दवा पेट में होने वाले कीड़े एस्केरिस में दी जाती है। इस दवा से पेट के कीड़े मरकर पेट से बाहर निकल जाते हैं। ज्यादा जानने के लिए Albendazole Tablet Uses in Hindi को पढ़ें।

Albendazole Tablet Uses in Hindi3

प्रश्न- एल्बेंडाजोल कैसे खाएं?

उत्तर- एल्बेंडाजोल की टेबलेट एक पत्ते में एक ही गोली होती है। इसको खाने का सबसे अच्छा तरीका रात में चबाकर खाना है। यह टेबलेट चबाकर ही खाई जाती है। पानी के साथ यह टेबलेट नहीं निगली जाती है। इस टैबलेट को चबाने से इसका बहुत तेजी से असर दिखाई देता है।

प्रश्न- क्या 3 दिनों के लिए albendazole लिया जा सकता है?

उत्तर- यदि पैरासिटिक संक्रमण लगातार बना हुआ है। तो आप एल्बेंडाजोल 3 दिन तक ले सकते हैं। यदि संक्रमण खत्म हो गया है। तब आप इस दवा को रोक सकते हैं। ज्यादा बेहतर होगा इस दवा को लेने से पहले आप एक रजिस्टर्ड चिकित्सक की सलाह अवश्य ले। ज्यादा जानने के लिए Albendazole Tablet Uses in Hindi को पढ़ें।

प्रश्न- कीड़े की दवा कब लेनी चाहिए?

उत्तर- यदि आपके पेट में कीड़े होने की पुष्टि हो गई है। तब आप एल्बेंडाजोल 400 की टेबलेट ले सकते हैं। इसको लेने का सही तरीका है। इसको चबाकर रात में खाना बेहतर होता है यदि आपके पेट में संक्रमण बना हुआ है। तो इस दवा को लेने से पहले आप चिकित्सक की सलाह ले सकते हैं। इसकी पुष्टि के लिए आप कुछ जाचे भी करा सकते हैं। जिसमें अल्ट्रासाउंड के जरिए भी पेट में कीड़े होने की पुष्टि की जाती है।

प्रश्न- पेट में कीड़े हो तो कैसे पता चलता है? 

उत्तर- यदि आपके पेट में कीड़े हैं। तो आपको भूख का कम लगना तथा पेट में दर्द रहना पेट में चुभन होना और अपच जैसी समस्याएं हमेशा बनी रहेंगी। पेट की जांच भी की जाती हैं। जिसमें अल्ट्रासाउंड के जरिए यह पुष्टि की जाती है। की मरीज के शरीर में या पेट में एस्केरिस है या नहीं है। ज्यादा जानने के लिए Albendazole Tablet Uses in Hindi को पढ़ें।

प्रश्न- पेट में कीड़े होने पर क्या लक्षण होते हैं?

उत्तर- यदि आपके पेट में कीड़े हैं। तो आपको निम्नलिखित लक्षण दिखाई देंगे जिसमें सबसे पहले आपके पेट में हमेशा दर्द बना रहेगा अपच की समस्या बनी रहेगी। तथा मरीज को भूख भी नहीं लगेगी जिस कारण मरीज का वजन घटने लगेगा। पेट में कीड़ों की पुष्टि के लिए अल्ट्रासाउंड सबसे बेहतर जांच है। इस जांच से पता चल जाता है। कि व्यक्ति के शरीर में कीड़े हैं या नहीं।

प्रश्न- क्या एल्बेंडाजोल को रात में लेना चाहिए?

उत्तर- एल्बेंडाजोल की टेबलेट को रात में लेने से इसके साइड इफेक्ट हमें पता नहीं चलते। इसलिए एल्बेंडाजोल टेबलेट को रात को लेना ज्यादा सुविधाजनक माना जाता है। इस टेबलेट को रात को चबा कर लिया जाता है। ज्यादा जानने के लिए Albendazole Tablet Uses in Hindi को पढ़ें।

प्रश्न- एल्बेंडाजोल आपके सिस्टम में कितने समय तक रहता है?

उत्तर- एल्बेंडाजोल की टेबलेट हमारे शरीर में काफी समय तक एक्शन में रहती है। जिससे यह हमारे शरीर में हुए संक्रमण को खत्म करती है। इसलिए इस दवा को एक हफ्ते के अंतराल में लिया जाता है। या जैसा चिकित्सक सलाह दें उनके हिसाब से लिया जाता है।

निष्कर्ष

दोस्तों। इस लेख Albendazole Tablet Uses in Hindi में हमने इसके इस्तेमाल जाने। इसके साथ साथ इसके दुष्प्रभाव और डोज को भी जाना। आशा करता हूँ। यह लेख आपको अच्छा लगा होगा। इस लेख से सम्बंधित आपका कोई प्रश्न या सुझाव हो। तो निःसंकोच हमसे संपर्क करें। ज्यादा जानकारी के लिए हमारे सोशल मीडिया एकाउंट्स को लाइक और फॉलो करें। धन्यबाद।

यह भी जानें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *